Chal Bombay Lyrics – Divine

Chal Bombay Song Lyrics – Divine

Chal Bombay Lyrics in Hindi – Divine
Chal Bombay Lyrics – Divine
Song Credits :
Album Name: Kohinoor
Artist: DIVINE
Lyrics : DIVINE
Music Composer: DIVINE, Phenom, Ill Wayno
DIVINE – CHAL BOMBAY SONG LYRICS

चल Bombay, मेरी माँ से मिलाता हूँ
चल घर पे तुझे हाथ से खिलाता हूँ
जो भी बोला वो हक़ से निभाता हूँ

तुझे चाहता हूँ, तुझे चाहता हूँ
चल Bombay, मेरी माँ से मिलाता हूँ
चल घर पे तुझे हाथ से खिलाता हूँ
जो भी बोला वो हक़ से निभाता हूँ

तुझे चाहता हूँ, तुझे चाहता हूँ
जब मेरे साथ थी वो, मेरी ख़ास थी वो
मेरी shooter मेरा नशा, मेरी घांस थी वो

मनाली-मनाली, क़वाली-क़वाली
वो दिखती माधुरी, जब पहने वो सारी
मेरे मुँह में है गाली, वो मीठी ज़बानी

वो गहरा समुंदर, मैं बहता हुआ पानी
मैं शायर मवाली, तेरा बिछला वो जाली, ये असल ना रानी(ahaa)

आ, ज़रा ग़ुम कर देख, ग़ौर से देख
तू ही थी कोई और नही देख

हर रास्ता है अब ना मैं road से देख
पछतायेंगी-पछतायेंगी तू छोड़ के देख
ये गाना नही गाना, ये आशिक़ दीवाना

क्यूँ जले ज़माना तो जलने दे
शायद समझेंगी वो मेरे मरने पे
शायद समझेंगी वो मेरे मरने पे

चल Bombay, मेरी माँ से मिलाता हूँ
चल घर पे तुझे हाथ से खिलाता हूँ
जो भी बोला वो हक़ से निभाता हूँ

तुझे चाहता हूँ, तुझे चाहता हूँ
चल Bombay, मेरी माँ से मिलाता हूँ
चल घर पे तुझे हाथ से खिलाता हूँ

जो भी बोला वो हक़ से निभाता हूँ
तुझे चाहता हूँ, तुझे चाहता हूँ
सुन पगली, हाँ, माना मेरी ग़लती

तेरी सहेली और मेरी नही जमती
हाँ, ये दरख़्वास्त है, दे रहा नही धमकी
जबसे तू मिली कसम मेरी क़िस्मत चमकी

हाँ, माना मैं सनकी
प्यार है सिर्फ़ तुझसे और दिखती नही अगली
और कोई भी नही मंगती

हाँ, दे दूँ हरमाला तू बना जा वे जंती
और कोई भी आ जावे हिला दूँगा धरती
बोल तेरे पापा, मामा या चाचा को

झाई तुझ मोग, दुसरे कीथे नाका गो
मका नाका गो, मका नाका गो
झाई तुझ मोग आनी दुसरे कीथे नाका गो

Goan लड़का मैं देश भर में चर्चा है
सफ़ल हो जाए जो एक बार तू चर्च आए
Public मरती है, ये तुझ पे मरता है

सच बोलूँ तो खाली तुझसे डरता है
चल Bombay, मेरी माँ से मिलाता हूँ
चल घर पे तुझे हाथ से खिलाता हूँ

जो भी बोला वो हक़ से निभाता हूँ
तुझे चाहता हूँ, तुझे चाहता हूँ
चल Bombay, मेरी माँ से मिलाता हूँ

चल घर पे तुझे हाथ से खिलाता हूँ
जो भी बोला वो हक़ से निभाता हूँ
तुझे चाहता हूँ, तुझे चाहता हूँ

मका नाका गो, नाका-नाका गो
झाई तुझ मोग आनी दुसरे कीथे नाका गो
मका नाका गो, नाका-नाका गो

झाई तुझ मोग आनी दुसरे कीथे…
मका नाका गो, नाका-नाका गो

झाई तुझ मोग आनी दुसरे कीथे नाका गो
मका नाका गो, नाका-नाका गो
झाई तुझ मोग आनी दुसरे कीथे नाका गो

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*