Aaina Aaina Lyrics – Doublemint Freshtake Season 1

Aaina Lyrics – Doublemint Freshtake Season 1

Song Credits:
Singer: Monali Thakur & Ranajoy Bhattacharjee
Music by: Ranajoy Bhattacharjee
Lyrics: Geet Sagar
दुरी दुरी सी रह,
ठहरी ठहरी सी बहे,
हवा जो दिल से क्या कहे,
कैसे बताऊ तुझे।
रहे तू जाने कहा ,
करौं में कैस ब्यान,
ढूँढू मन का आसमन पर ,
कभी ना पावु तुझ में।
ये जो दिल ये परशान है,
जानूं ना चहे तू क्या
मेरा मन खुदा ही है,
क्यूं तेरे मन से जुदा
ऐना है तू मेरा,
में तेरा आना
हैन ई सी से जुदा।
रख के किनारो पे,
दोनो की दूरिया,
ढुंडी नै दास्तान ।।
आंखें में भर के,
तारोन के सपने,
जायेंगे द्वार तुझ लेके।
फिला का क्या,
हमको बुलाने,
ख्वाब-ओ-ख्याल, ख्वाहिशें।
थोडी थोडी है जो दरवाजा,
ढल ही जायगी।
रस्ते जो रूह ढूंढे,
क्यूं ना पेगी।
ये जो दिल ये परशान है,
जानूं ना चाहे तू क्या
मेरा मन खुद भी हैरान है,
क्यूं तेरे मन से जुदा
आइना है तू मेरा,
में तेरा आइना,
हें एक से पर जुदा ।
राख के किन्नरों पे,
दोनो की दूरिया,
ढुंडी नै दास्तान।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: